Patthar Wargi Lyrics Hindi – B Praak

Patthar Wargi Lyrics

Patthar Wargi Lyrics in hindi sung by ranvir. Patthar Wargi song Lyrics written by Jaani. music label t series.

Patthar Wargi Lyrics hindi

क्यों रोयि नहीं पुछदा
ते की होई नहीं पुछदा
सह चल रही की ना na
किवेन मोहि नहीं पुछदा

क्यों रोयि नहीं पुछदा
ते की होई नहीं पुछदा
सह चल रही की ना na
किवेन मोहि नहीं पुछदा

मैं तेरे बिना तन यार
आज ते पत्थर वर्गी आने
जिहदी कोई कदर नी हुंदी
जिहनु कोई नहीं पुछदा

मैं तेरे बिना तन यार
आज ते पत्थर वर्गी आने
जिहदी कोई कदर नी हुंदी
जिहनु कोई नहीं पुछदा

मैं तेरे बिना तन यार
आज ते पत्थर वर्गी आने
जिहदी कोई कदर नी हुंदी
जिहनु कोई नहीं पुछदा

मैं हूं पछताउनी आना
एस गल दा रोना ऐ
मैं सोच सोच मार जु
के हुं तू कहना होना ऐ

हुन चलियां वे नींदन
क्यों सोया नहीं पुच्छदा
किंझ दुनिया दे अगे
मैं पेड लुकोयी नई पुछदा
कोई नई पुछदा

मैं तेरे बिना तन यार
राज़ पे पत्थर वारगी
जिदी कोई क़दर नहीं हिंदी
जिनु कोई नहीं पुछदा

मैं तेरे बिना तन यार
राज़ पे पत्थर वारगी
जिदी कोई क़दर नहीं हिंदी
जिनु कोई नहीं पुछदा

ऐ जिंदगी छोटी जी
तू न इंझ लगा जानी
आ मिट्टी के आ जानी
थोडा तारस दीखा जानीja

मेरी जिंदगी नरक जेहिक
क्यूं हुई नई पुच्छदा
जो मेरा सी अपना
ओ हुं मैनु ओहि नहीं पुछदा
कोई नई पुछदा

मैं तेरे बिना तन यार
आज ते पत्थर वर्गी आने
जिहदी कोई कदर नी हुंदी
जिहनु कोई नहीं पुछदा

मैं तेरे बिना तन यार
आज ते पत्थर वर्गी आने
जिहदी कोई कदर नी हुंदी
जिहनु कोई नहीं पुछदा

एह जिंदगी छोटी जहां
तू लाई इंझ लगा जानी
आ मिट्टी के आजा नि:
थोड़ा तारस दिखला जाना di

मेरी जिंदगी नरक जहां
क्यों हुई नई पुछदा
जो मेरा सी अपना
हुन मैनु ओही नई पुछदा
कोई नई पुछदा

मैं तेरे बिना तन यार
आज ते पत्थर वर्गी आने
जिहदी कोई कदर नी हुंदी
जिहनु कोई नहीं पुछदा

मैं तेरे बिना तन यार
आज ते पत्थर वर्गी आने
जिहदी कोई कदर नी हुंदी
जिहनु कोई नहीं पुछदा

कोई नई पुछड़ा।

Also Read: Jazaak Allah lyrics – Javed Ali, Salim Sulaiman