Ishq Khuda Hai lyrics – इश्क़ खुदा है – Khushali Kumar, Tulsi Kumar

Ishq Khuda Hai lyrics

Ishq Khuda Hai lyrics in hindi sung by  Khushali Kumar, Tulsi Kumar. Ishq Khuda Hai song lyrics written by Khushali Kumar.

Ishq Khuda Hai lyrics hindi (इश्क़ खुदा है)

दो कदम चलने की चाह थी
उस रास्ते पर
जिस पर चलने को हाथ थमा था तुमने

लगता था बस यहीं पोहचाएंगी
मंज़िल-ए-सफर तक
खोज पूरी हो गयी
शायद ऐसा एहसास हो गया था

उंदर के दर्द
अभी कुछ देर पहले तक दुखते थे
गिरने वाले तो ना थे हम कभी
गिरानेवाले का हुनर तो देखिये
हम ने आह भी करी
तो हमे ही सुनाई ना दी

पिघलते गए
उसकी साँसों में हरपल
सामने वो था
तो हर सब्र खो बैठे
सिर्फ चाहा
की वो चाहें मुझे इतना
जितना मैंने उसको चाहा

हौले से कब हुआ है
किसी और का होकर
सिर्फ मेरी और देख कर कहा
की कमी है तेरी

हल्के सी मज़ाक बन कर…


Ishq Khuda Hai lyrics english

Do kadam chalne ki chaah thi
Us raste par
Jis par chalne ko hath thama tha tumne

Lagta tha bas yahin pohchaengi
Manzil-e-safar tak
Khoz poori ho gayi
Shayad aisa ehsaas ho gaya tha

Undar ke dard
Abhi kuch der pehle tak dukhte the
Girne wale to na the hum kabhi
Giranewale ka hunar to dekhiye
Hum ne aah bhi kari
To hame hi sunaai na di

Pighalte gaye
Uski saanson mein harpal
Samne woh tha
To har sabra kho baithe
Sirf chaha
Ki woh chahein mujhe itna
Jitna maine usko chaha

Haule se kab hua hai
Ki…

Also Read: https://www.lyricsgyan.com/2020/08/socha-na-tha-lyrics-nisha-guragain-aishwarya-pandit.html